अपने समाज को सुरक्षित रखने में मदद करें, हम सभी सुरक्षित रहें।

हमारा एक सरल लक्ष्य है: मधुमेह पीड़ित के जीवन की रक्षा के लिए वैश्विक स्तर पर मधुमेह समुदाय मिलकर मुकाबला करें ।

मधुमेह के साथ रहना बहुत संघर्षपूर्ण है।

कोरोना वायरस महामारी के वैश्विक प्रकोप ने नई चुनौतियों, आशंकाओं और अनिश्चितताओं को जन्म दिया है।

मधुमेह से पीड़ित लोग कोरोना वायरस के कारण अनेक अति संवेदनशील गंभीर रोगों की चपेट में आ सकते हैं।

टाइप १ और टाइप २, मधुमेह पीड़ितो के लिए इन परेशानियों के बावजूद एक ख़ुशख़बरी है कि उनके स्वस्थ दिनचर्या और अच्छी आदते उन्हें सुरक्षित रखती है। 

हम सब मिलकर भविष्य में आने वाली समस्याओं का सामना अपनी इच्छाशक्ति के बल पर कर सकते हैं।

वायरस के प्रसार को रोकने के लिए किया गया हर प्रयास अनगिनत संक्रमणों को रोकता है।

आइए अपने हिस्से की जिम्मेदारी का वहन कर इस आंदोलन का हिस्सा बने ।

मधुमेह से पीड़ित हर कोई इस वायरस के खतरे में एक बराबरी नहीं है। लेकिन जब हम खतरे का सामना करने के लिए एक साथ मिलकर काम करते हैं तो हम कोरोना वायरस का सामना करने में पूरी तरह सक्षम होते हैं।

यदि आपकी आयु ७० साल से ज़्यादा हैं या आपका शुगर कंट्रोल अनियंत्रित है या आप किसी ऐसे व्यक्ति के साथ रहते हैं, तो आप कोशिश करें कि हर वक़्त सतर्क व सावधान रहें।

यदि आप कम उम्र के युवा हैं और कोरोना वायरस के तत्काल संक्रमण से सुरक्षित हैं तो अपने समुदाय के दूसरे रोगियों को सुरक्षित रखने के लिए हर संभव सावधानी बरतें। 

अतिसंवेदनशील मधुमेह पीड़ितो की सहायता के हेतु वैश्विक मधुमेह समुदाय के सदस्यों को सुरक्षित रखने में योगदान दें।

जो घर पर नहीं रह सकते उनकी सुरक्षा का ध्यान रखें।

फ्रंटलाइन वॉरियर्स की सुरक्षा का ख्याल रखें ।

हमारे किसानों, किराना कर्मियों, नर्सों और फार्मासिस्टों की रक्षा करें। अपनी और अपने परिवार की रक्षा करें।

साथ मिलकर  हम COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाकर वायरस को हरा सकते हैं। हमारे बीच सबसे अतिसंवेदनशील लोगों का जीवन खतरे में है ।

हम कौन है? JDRF-Beyond Type 1 Alliance के बारे में और जानें।

हर कोई हर एक सावधानी बरतने के योग्य नहीं है – लेकिन आपके द्वारा लिए गए हर एहतियात से फर्क पड़ सकता है। 

आप क्या कर सकते हो?

इन सावधानियों को अपनाएं और अपने साथियों को भी इस अभियान से जुड़ने के लिए प्रोत्साहित करें।

The American Diabetes Association, Harvard Medical School, ISPAD, तथा  JDRF के सहयोग से तैयार किए सुझावों को विश्व के सभी मधुमेह समुदाय के सदस्यों द्वारा अपनाया जा रहा है ताकि हमारे बीच के अधिक संवेदनशील लोगों को सुरक्षित रखा जा सके।

इस आंदोलन का हिस्सा बनें। यदि कोई संगठन इस आंदोलन में भागीदार बनना चाहता है तो ई-मेल करें – : coronavirus@beyondtype1.org 

मधुमेह से प्रभावित लोगो के लिए अनुशंसाएँ

विस्तृत अनुशंसाएँ + व्यवहार में बदलाव संबंधी दिशानिर्देशो को हिंदी में डाउनलोड करें।

निम्नलिखित अनुशंसाएँ विस्तारपूर्वक समझाती है कि — व्यक्तिगत स्वच्छता को किस तरह बनाए रखना है, दूसरों के साथ शारीरिक संपर्क को सीमित रखना, घर से बाहर निकलते समय हर सावधानी बरतना, कार्यक्षेत्र को जितना संभव हो सुरक्षित रखना, अपने शुगर लेवल को नियंत्रण में रखना, अपनी शारीरिक और मानसिक स्थिति को पूरी तरह स्वस्थ रखना, और अगर आप बीमार पड़ जाते हैं तो तुरंत अस्पताल जाएं। वर्तमान स्थिति में हर छोटी से छोटी बात महत्वपूर्ण है।

व्यक्तिगत स्वच्छता का हर वक़्त पूरा ख्याल रखें।

  • हर बार जब भी आप घर बाहर जाते हैं या बाहर से आये सामान के संपर्क में आते हैं तो साबुन से अपने हाथ अवश्य धोएं।
  • अपने घर में उन जगहों को नियमित रूप से कीटाणुरहित करें जहां बार बार कई लोगों का हाथ लगता है।
  • अपने चेहरे को बार- बार छूने से बचें।
  • खांसी या छींक को अपनी कोहनी या रूमाल से ढके।
  • ऐसा सोचे जैसे कि आपको COVID है और इसे फैलने से आपको ही बचाना है।

दूसरों के साथ शारीरिक संपर्क को कम से कम रखना।

  • अपने घर के बाहर के व्यक्तियों से संपर्क सीमित रखें ।
  • अपने बजट के अनुसार खाने पीने के आवश्यक सामान और दवा का पर्याप्त मात्रा में स्टॉक  रखें ताकि आपको बार-बार बाज़ार न जाना पढ़े। कोशिश करें घर पर ही मंगवा लें। 
  • घर से ही नियमित रूप से चिकित्सक के संपर्क में रहें : टेली-हेल्थ (Telehealth) और मेल-ऑर्डर ऑनलाइन फ़ार्मेसी विकल्पों का उपयोग करें।

बाहर निकलते समय संक्रमण के जोखिम को कम से कम करना=

  • दूसरों से कम से कम 2 मीटर / 6 फीट की दूरी बनाए रखें।
  • कपड़े का मास्क या फेस कवर से चेहरे को अच्छी तरह ढककर रखें।
  • सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ से बचने के हिसाब से अपना टाइम टेबल बनाएं।
  • यदि संभव हो तो अतिसंवेदनशील लोगों के लिए समर्पित समय का उपयोग कर सकते हैं।

कार्यक्षेत्र को जितना संभव हो उतना सुरक्षित बनाएं।

  • जहां तक संभव हो घर से ही काम करें। दूसरों से 2 मीटर / 6 फीट की दूरी बनाये रखने के लिए कार्यक्षेत्र प्रक्रियाओं में बदलाव लाएँ। भीड़ भाड़ से बचने के लिए अपना आने जाने का समय  निर्धारित करें।
  • जैसे ही आपसी दूरी (Social Distance) के नियमो में ढील दी जाती है, अतिसंवेदनशील लोगों के लिए फ़्लेक्सिबल तरीक़ों से काम करने की सुविधा के लिए वकालत करें।

अपनी शारीरिक और मानसिक स्थिति को पूरी तरह स्वस्थ रखना

  • अगर आप धूम्रपान या वैप (Vape) करते हैं, तो तुरंत बंद कर दें।
  • आराम, जलयोजन, संतुलित भोजन, व्यायाम व योग और दूसरों के साथ ऑनलाइन बातचीत को प्राथमिकता दें।
  • व्यायाम को घर के अंदर या खुले जगह पर जहां लोग कम हो, करें।
  • अगर आप मानसिक तनाव से जूझ रहे हैं, तो ऑनलाइन मदद लें।

अपने मधुमेह नियंत्रण का पूरा ध्यान रखें।

  • ब्लड शुगर की जाँच बार बार करें;  इन विकट परिस्थितियों में आपका शरीर अलग ढंग से रिएक्ट कर सकता है।
  • कीटोन (Ketone) की जांच करना बहुत आसान है, आप घर पर ही कर सकते हैं। ब्लड शुगर लेवल्ज़ के साथ नियमित रूप से कीटोन्स की भी जाँच करें।
  •  कीटोन स्ट्रिप्स (Ketone strips) और गंभीर हाइपोग्लाइसीमिया/ शुगर कम हो जाने से बचाव के तरीक़ों  (जैसे ग्लूकान इंजेक्शन) और अन्य आपूर्तियो को पर्याप्त मात्रा में  स्टॉक कर लें।
  • शारीरिक गतिविधियां और ब्लड शुगर के लिए संतुलित भोजन खाने की दिनचर्या बनाए रखें।
  • मधुमेह प्रबंधन में परेशानी होने पर और किसी प्रकार के तनाव से बचने के लिए अपने डॉक्टर या स्वास्थ्यकर्मी से संपर्क करें।
  • अपने डाइअबीटीज़ समुदाय की मदद ले – व्यवहारिक रूप में इनमें से कुछ भी आसान नहीं है, इसलिए हम सभी को एक – दुसरे का ध्यान रखना है। सोशल मीडिया और ऑनलाइन समुदायों से जुड़े रहें।

यदि आप बीमार हो जाते हैं तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें और इलाज शुरू करें।

  • थर्मामीटर (Thermometer) से प्रतिदिन तापमान मापें और हार्ट रेट को रिकोर्ड करने वाली स्पेशल वॉच से jजांचें। शरीर में किसी भी तरह के परिवर्तन को ट्रैक करें।
  • अगर आप बीमार है फिर भी कभी इंसुलिन या अन्य दवाइयाँ  लेना बंद न करें। इंसुलिन की डोज़ में बदलाव करने के लिए अपने डॉक्टर से मदद लें।

डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (DKA) के चेतावनी संकेतों को जानें और यदि इनमें से कोई भी लक्षण हो जैसे सांस में अजीब प्रकार की बदबू आना, सांस लेने में तकलीफ़ होना, वजन कम हो जाना, बार-बार प्यास लगना, निर्जलीकरण (Dehydration), भ्रम की स्थिति जैसे महसूस करना और लम्बी साँसें लेना – तो तुरंत डॉक्टर/ हॉस्पिटल को सम्पर्क करें।

यदि आपको मधुमेह है और आप कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाते हैं, तो तुरंत अपने स्वास्थ्य सलाहकार को संपर्क करें। अधिक जानकारी के लिए, मधुमेह आपदा प्रतिक्रिया गठबंधन (Diabetes Disaster Response Coalition) संसाधन पर जाएँ।

संसाधन + साझा करने योग्य

प्रचार करने में मदद करें। 

हमसे जुड़ें! अपने समुदाय के साथ इन जीवन रक्षक हिदायतों को साझा करने के लिए प्रतिबद्ध हों। ई-मेल करें coronavirus@beyondtype1.org और हम आपके लोगो (logo) को  मधुमेह पीड़ित समुदाय की बढ़ती सूची में जोड़ देंगे। धन्यवाद।